जॉब करियर

आशा,आंगनबाडी व रसोइयों ने प्रदर्शन कर मांगा18000 न्यूनतम मानदेय… पढ़े राजेश पाण्डेय की पूरी खबर

श्रावस्ती।स्कीम वर्कर समन्वय समिति के बैनर तले मंगलवार को आशाबहू, आंगनबाडी व
रसोइयों ने इकौना नगर में प्रदर्शन कर ब्लाक मुख्यालय पर धरना दिया। बाद में
स्कीम वर्करों को न्यूनतम 18000 रुपए मानदेय दिए जाने सहित 25 सूत्रीय एक
मांग पत्र एडीओ पंचायत इकौना मुरलीधर को सौंपा। मंगलवार को आशा
कर्मचारी संघ की जिलाध्यक्ष उमा मिश्रा के नेतृत्व में आशा बहू, आंगनवाडी
कार्यकत्री व सहायिका तथा रसोइयों ने अपनी मांगों को लेकर इकौना नगर की
सडकों पर प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारी महिलाएं स्कीम वर्कर करे
पुकार मानदेय हो 18000 हजार व हमारी मांगे पूरी हो चाहे जो मजबूरी हो आदि
नारे लगा रही थीं। प्रदर्शन के बाद सभी ब्लाक परिसर में बीडीओ कार्यालय
के सामने धरना दिया। इस धरने को आशा संगिनी उमा मिश्रा, किरन चौधरी,
वंदना सिंह, स्कीम वर्कर समन्वय समिति के संरक्षक विजयकुमार मिश्रा,
संयोजक श्यामसुन्दर शुक्ला आदि ने संबोधित कर आशाओ, आंगनबाडी व रसोइयो के उत्पीडन का आरोप लगाया। बाद में मुख्यमन्त्री को संबोधित 25 सूत्रीय मांग पत्र बाडीओं के प्रतिनिधि एडीओ पंचायत मुरलीधर को सौंपा। मांग पत्र में आशा, आंगनबाडी व रसोइयों को न्यूनतम 18000 रुपए मानदेय व राज्य कर्मचारी का दर्जा दिए जाने, बगैर ग्राम पंचायत की खुली बैठक के आशाओं पर काम में शिथिलता का आरोप लगा कर निकाली गई आशाओं को काम पर वापस लेने,आशाओं को साइकिल व आशा संगिनी को पेट्रोल चलित स्कूटी दिए जाने, बालविकास विभाग
में भ्रटााचार मुक्त प्रमोशन के लिए जिला स्तर पर वरीयता सूची का प्रकाशन कराए जाने, बाल विकास विभाग में कार्यकत्रियों से की जा रही अबैध वसूली
को बन्द कराए जाने, हाटकुक का पैसा महिला मातृ समिति के खाते में भेजने,रसोइयों का बकाया मानदेय तुरन्त भुगतान कराने, रसोइयों का नवीनीकरण प्रक्रिया बन्द कर नियुक्ति में पाल्य शब्द को हटाने आदि की मांग की गई
है। इस मौके पर मानशीदेवी, संगीता श्रीवास्तव, राधादेवी, अनीता देवी,
रेखा मिश्रा, कंचन पाण्डेय, कमलेश मिश्रा, शीला तिवारी, रोशन आरा,
शबेनूर, गिरिजादेवी पाल, व अंशू देवी सहित लगभग 200 मिहलाएं मौजूद रही।
रिपोर्ट-राजेश कुमार पाण्डेय

News Plus India
प्रधान सम्पादक : विजय पाण्डेय, सह सम्पादक : दिनेश मिश्र,उप संपादक बृजेश यादव,ताजुल हुसैन। विधिक सलाहकार : एडवोकेड वी.के.मिश्र, खबरों से सम्बंधित किसी भी शिकायत की सुनवाई हाई कोर्ट लखनऊ के अधीन होगी।
http://newsplusindia.in