स्वास्थ्य

जागरूकता अभियान चलाया गया, पोलीथिन हटाओ मुहिम शुरू… पढ़े राजेश पाण्डेय की पूरी रिपोर्ट

श्रावस्ती। पर्यावरण प्रदूषण को लेकर को स्व श्यामता प्रसाद चौधरी महिला महाविद्यालय की
छात्राओं ने एक अनूठी पहल की शुरुआत किया है। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ.
सिम्मी तिवारी के नेतृत्व में शुक्रवार को छात्राओं ने खरगौराबस्ती,
विजईपुरवा, लोहनिया आदि मजरो में पर्यावरण प्रदूषण हटाओ अभियान की रैली निकाली। इस
दौरान छात्राओं ने घर घर जाकर स्वच्छता व पर्यावरण संरक्षण की
अपील की। इस अभियान को सफल बनाने के उद्देश्य से इकौना के प्रतिष्ठित दुकानदार पूजा वस्त्रालय के संजीव नय्यर की तरफ से कपडे का थैले (झोला) भेंट किया गया जो लोगो को बांट कर पाालीथिन से दूर रहने की अपील की। रैली मे इस कपड़े के झोले को लेकर छात्राएं ले लो कपडे का थैला, नही होगा आपका घर मैला, गांव को स्वर्ग बनाना है तो पोलीथिन को दूर
भगाना है, यह संकल्प हमारा है, प्रदूषण को दूर भगाना है आदि नारे लगा रही
थीं। ग्रामीण महिलाओं के बीच प्राचार्य ने कहा कि पर्यावरण प्रदूषण व
गन्दगी मानव जीवन के लिए अभिषाप है। इन्ही दोनों से हम सबके शरीर में
अनेकों प्रकार की बीमारी फैलती है। जबकि एक स्वस्थ्य व स्वच्छ भारत के
लिए नागरिकों का स्वस्थ्य होना आवश्यक है। महिलाएं इस ब्रह्मांड की
सूत्रधार हैं। अगर वें ठान लें कि हमे अपने घर व आसपास को स्वच्छ रखना है
तो देश में चलाई जा रही स्वच्छता अभियान पूर्ण रूपेण सफल हो सकता है।
उन्होने ग्रामीण महिलाओं से कहा कि पोलीथिन समाज के लिए एक मीठा जहर है।
वें अपने घर पुरुषों को घर का सामान लाने बाजार जाते समय कपडे का थैला
जरूर दें। जिससे वें पोलीथिन के थैले में सामान न लाए। प्राचार्य ने
गन्दगी से होने वाली बीमारियों का उल्लेख कर कहा कि अगर हमे अपनी आने वाली पीढी को स्वस्थ्य रखना है तो आज से ही गन्दगी व पोलीथिन से दूर रहने की शपथ लेनी होगी। अन्यथा गन्दगी व पोलीथिन हमारी आने वाली पीढी को
दिव्यांग बना देगी। इस अभियान में विद्यालय के वेद प्रकाश द्विवेदी, क्रान्ती वर्मा, अखिलेन्द्र कुमार, रमेश निषाद, अनुराधा श्रीवास्तव व नीलम सहित सभी शिक्षक मौजूद रहे।
रिपोर्ट-राजेश कुमार पाण्डेय

News Plus India
साप्ताहिक समाचार पत्र व न्यूज पोर्टल
http://newsplusindia.in