स्वास्थ्य

आगामी वर्ष के प्रारम्भ में कोरोना की वैक्सीन जिले में पहुंचने की उम्मीद

प्राइवेट स्वास्थ्य संस्थान 24 तक उपलब्ध कराएं स्टाफ का ब्योरा – सीएमओ
-आगामी वर्ष के प्रारम्भ में कोरोना की वैक्सीन जिले में पहुंचने की उम्मीद
-कोरोना योद्धा की श्रेणी में आने वाले अधिकारी, कर्मचारियों को लगेगा वैक्सीन

रिपोर्ट,दिनेश शर्मा न्यूज़ प्लस इन्डिया

बहराइच 21 नवंबर 2020 : कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग को वैक्सीन की आस लगी है। इसे आगामी नए साल के फरवरी-मार्च तक पहुंचने का अनुमान है। इस संबंध में भारत सरकार एवं राज्य सरकार ने निर्देश भी जारी कर दिया है जिसके अनुसार सभी सरकारी अस्पताल तथा प्राइवेट संस्थानों के कर्मियों का ब्योरा मांगा गया है ।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ राजेश मोहन श्रीवास्तव ने बताया कि जारी निर्देशों के अनुसार स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं । जिसके तहत जिले के सभी सरकारी व निजी अस्पताल, पैथालोजी, नर्सिंग होम, अल्ट्रासाउंड सेंटर , निजी क्लीनिक, प्राइवेट और पैरा मेडिकल कालेज, यूनानी , आयुर्वेदिक सहित होम्योपैथिक क्लीनिक के संचालकों से मेडिकल व पैरामेडिकल स्टाफ की सूचना उपलब्ध कराने के लिए अपील की है । उन्होने सभी संचालकों से मेडिकल व पैरामेडिकल स्टाफ की सूचना 24 नवंबर तक उपलब्ध न कराने पर विधिक चेतावनी भी दी है ।
सबसे पहले कोरोना योद्धाओं को समर्पित होगा वैक्सीन –
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ विजय प्रकाश वर्मा ने बताया कि जिले में कुल 126 सरकारी स्वास्थ्य केंद्र संचालित हैं। जिसमें कार्यरत लगभग 8800 अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ ही जनपद में कुल 179 प्राइवेट संस्थानों में कार्यरत स्टाफ को सबसे पहले वैक्सीन दी जाएगी । इसके लिए प्राइवेट संस्थानों से ब्योरा मांगा गया हैं। उन्होने बताया वैक्सीन के जनपद में पहुंचने पर कोल्ड चेन में रखा जाएगा। निर्धारित तापमान को बनाए रखने के लिए तैयारियां कर ली गयी हैं । इसके साथ ही हाई रिस्क कोरोना पॉजिटिव मरीजों एवं एरिया को चिन्हित करने की कार्यवाही की जा रही है। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग के साथ फ्रंट लाइन में रहने वाले अन्य विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को सबसे पहले लाभ प्रदान किया जाएगा।

News Plus India
साप्ताहिक समाचार पत्र व न्यूज पोर्टल
http://newsplusindia.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *