स्वास्थ्य

मास्क के साथ चश्मा करे परेशान, तो रखें इन बातों का ध्यान

इसका कारण है कि मास्क लगाने के बाद चश्मे पर वाष्प जम जाती है जिससे सब कुछ धुंधला दिखाई देने लगता है।

रिपोर्ट, दिनेश शर्मा न्यूज़ प्लस इन्डिया बहराइच मो,9648944666

बहराइच 7 सितंबर 2020: कोरोना काल मे जब मास्क सभी के लिए अनिवार्य कर दिया गया है तो ऐसे मे चश्मा इश्तेमाल करने वाले लोगों को चेहरे पर मास्क लगाने मे ख़ासी परेशानी होती है। इसका कारण है कि मास्क लगाने के बाद चश्मे पर वाष्प जम जाती है जिससे सब कुछ धुंधला दिखाई देने लगता है।
वाहन चलाने वालों को ऐसी स्थिति मे खास तौर पर सावधान रहने की जरूरत है । इसके लिए ऐसे मास्क का प्रयोग करना चाहिए जिसकी बनावट इस प्रकार हो कि नाक पर रहने वाला हिस्सा वी आकार यानि तिकोना हो और नाक पर एकदम फिट बैठे । पहले मास्क पहने फिर चश्मा इस प्रकार लगाएं कि नाक के ऊपर मास्क का कुछ हिस्सा चश्मे के फ्रेम से दबा रहे जिससे सांस की गरम हवा मास्क के ऊपर से निकल कर चश्मे तक न जाये।यकीन मानिए चश्मे पर जमा होने वाली वाष्प आपको परेशान नहीं करेगी ।
डिप्टी सीएमओ डॉ योगिता जैन की माने तो बरसात के मौसम मे बाहर का तापमान गिरने और हमारी सांस के जरिए बाहर आने वाली हवा का तापमान अधिक होने से चश्मे पर वाष्प जमा होने की समस्या होती है । नाक और मास्क के बीच खाली जगह होने से जो सांस हम छोड़ते हैं वह सीधे ऊपर की ओर जाकर चश्मे के लेंस से टकराती है । इस समस्या के समाधान के लिए घर पर बने मास्क को सिलते समय नाक पर आने वाले हिस्से मे कालर के बकरम की तरह एक वी आकार की क्लिप डाल दी जाय जिससे मास्क नाक के ऊपर एकदम फिट हो जाएगा । इससे न तो चश्मे के लेंस पर वाष्प की समस्या आएगी और न ही संक्रमण आने का खतरा रहेगा । इसका एक और आसान उपाय हो सकता है जिसमे टिशू पेपर को मोड़कर पट्टी के आकार मे बना लें और मास्क लगाने से पहले उसे इस तरह से नाक के ऊपर रखें कि मास्क के ऊपरी किनारे के साथ सैट कर बार्डर का काम करे । टिशू पेपर सांस की गरम हवा को सीधे चश्मे के लेंश पर नहीं जाने देगा ।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुरेश सिंह का कहना है कि कोविड-19 एक गंभीर और नयी बीमारी है । सावधानी ही इससे बचने का एक मात्र तरीका है । इसलिए जब भी घर से बाहर निकलें तो मास्क का प्रयोग अवश्य करें यह आपके साथ- साथ आपके परिवार को भी सुरक्षित करता है । कुछ लोगों का मानना है कि जब वह अकेले दो पहिया या चार पहिया वाहन से जा रहे हैं तो उन्हे मास्क लगाने की क्या अवश्यकता है। यह एक भ्रांति है क्योंकि घर से बाहर जब आप खुले मे होते हैं ऐसे समय यदि किसी संक्रमित व्यक्ति के खाँसने या छींकने से नाक या मुंह से निकली बूंदें हवा मे तैर रही होती हैं जिसमे निश्चित तौर पर संक्रमण होता है और इसी समय आप इन बूंदों के संपर्क मे आ जाते हैं और सांस के जरिए संक्रमण आप के शरीर मे प्रवेश कर जाता है । इस प्रकार आपको पता भी नहीं चलता कि आप संक्रमण की चपेट मे कैसे आ गए । इसलिए जब भी आप घर से बाहर निकलें मास्क जरूर पहने किसी भी सतह को छूने के बाद हाथों को सेनीटाइज़ करें या साबुन पानी से जरूर धुलें। नहीं तो जाने अंजाने आप अपने साथ अपने परिवार मे भी संक्रमण फैला देंगे।

News Plus India
साप्ताहिक समाचार पत्र व न्यूज पोर्टल
http://newsplusindia.in