राज्य शिक्षा समस्या

राशन व ड्रेस के वितरण के बहाने नौनिहालों के ज़िन्दगी से किया जा रहा खिलवाड़ ….

ब्युरो रिपोर्ट न्यूज़ प्लस इण्डिया

यूपी गोण्डा । जब पूरे देश मे 31 जुलाई तक स्कूलों को पूर्णतया बंद कर दिया तो गोंडा जिले मे किसके आदेश पर बच्चों को स्कूलों मे बुलाया जा रहा है । प्रकरण जनपद के विकास खंड कटरा बाजार के एक स्कूल ने बच्चों को बुलाकर राशन वितरण व ड्रेस वितरण कराया जा रहा है। कोरोना के बढ़ते केसों के बीच गोंडा मे बच्चों के जीवन से खिलवाड़ किया जा रहा है। 6 साल तक के बच्चों को स्कूलों मे राशन व ड्रेस के लिए रोजाना बुलाया जा रहा है। जिला प्रशासन द्वारा सिर्फ कागजों मे कोरोना से बचने के निर्देश जारी किये जाते हैं जबकि प्राइमरी स्कूलों मे हजारों बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ हो रहा है। स्कूलों मे ना थर्मल स्कींनिग की व्यवस्था है ना ही सेनेटाइजर की जबकि प्रवासी मजदूरों के लिए इन्ही प्राइमरी स्कूलों मे क्वारेटाइन सेन्टर बनाया गया था । सभी प्राइमरी स्कूलों को शासन द्वारा सेनेटाइज कराने के निर्देश हुआ लेकिन जमीन हकीकत मे एक भी स्कूलों को सेनेटाइज नही किया गया है।

सवाल ये उठता है कि जिस तरह से प्राइमरी स्कूलों मे बच्चों को रोजाना बुलाया जा रहा है । इस सम्बन्ध में जब खण्ड शिक्षा अधिकारी से सम्पर्क करने का प्रयास किया गया तो फोन पर सम्पर्क नही हो सका ।

Rajni Kant Tiwari
यूपी प्रभारी न्यूज़ प्लस इण्डिया सम्पर्क सूत्र 9839946832
http://www.newsplusindia.in