स्वास्थ्य

सिपाही भी करेंगे, कोरोना की निगरानी आशा संग कोटेदार भी करेंगे, प्रवासी कामगारों की देखभाल

सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं को पहुँचाने के लिए निगरानी समितियों का गठन किया गया है |

रिपोर्ट, दिनेश शर्मा न्यूज़ प्लस इन्डिया बहराइच मो,9648944666

बहराइच 6 जून 2020 : लॉक डाउन के कारण दूसरे राज्यों मे फंसे प्रवासी कामगारों सहित छात्र एवं अन्य लोगों की सुरक्षित घर वापसी हो रही है | भारी संख्या में गैर प्रान्तों से आए लोगों तक सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं को पहुँचाने के लिए निगरानी समितियों का गठन किया गया है | प्रधान सहित आठ लोगों द्वारा गठित ये समितियां होम क्वारंटाइन हुये लोगों को व्यक्तिगत स्वच्छता का पाठ पढ़ाएंगी | सिपाही संक्रमण के प्रसार को रोकने मे मदद करेंगे तो कोटेदार की ज़िम्मेदारी लोगों को राशन मुहैया कराने की होगी |
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुरेश सिंह ने बताया कोविड-19 यानि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए जनपद के 1054 ग्राम पंचायत एवं 80 नगरीय मोहल्ला निगरानी समितियों का गठन कर उन्हे प्रशिक्षित किया जा चुका है | प्रशिक्षण के माध्यम से सभी को उनके कार्यों एवं दायित्वों की जानकारी दी जा चुकी है | जिसके तहत निगरानी समितियां किसी बाहरी व्यक्ति के आने की सूचना तत्काल स्थानीय प्रशासन अथवा स्वास्थ्य विभाग को देंगी |
उच्च जोखिम वाले परिवारों जैसे बुजुर्ग , गंभीर रोगों से पीड़ित व्यक्तियों के घरों मे अलग से जगह न होने पर उन्हे ग्राम पंचायत अथवा नगर क्षेत्र मे अलग से क्वारंटाइन करने की व्यवस्था समितियों की होगी | इस दौरान आवश्यक वस्तुओं सहित उनकी देखभाल का उचित प्रबंध निगरानी समितियों द्वारा किया जाएगा | क्षेत्र मे गर्भवती महिलाओं एवं छोटे बच्चों पर विशेष ध्यान देने के साथ निगरानी समितियां होम क्वारंटाइन का कड़ाई से पालन करवायेंगी | ऐसा कराते समय परिवार का पूरा सहयोग करेंगी जिससे परिवार स्वयं को अकेला एवं असहाय न समझे तथा उनके लिए सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं को पहुँचाने मे उनकी मदद करेंगी | सार्वजनिक हैंड पंप पर साबुन की व्यवस्था कराना , भेदभाव रोकने के लिए क्वारंटाइन किए गए प्रवासी परिवारों को संबल प्रदान करना , क्वारंटाइन के नियमों का उल्लंघन करने पर सूचना जिला प्रशासन को देना , सामाजिक, धार्मिक, शादी समारोहों, शोक सभाओं आदि मे प्रोटोकाल के अनुसार कम से कम व्यक्तियों को शामिल करने हेतु सहमत करना आदि की ज़िम्मेदारी भी निगरानी समितियों की होगी |
प्रशिक्षण कार्यक्रम मे सहयोग कर रहे यूनिसेफ के डीएमसी धर्मेन्द्र तिवारी ने बताया कि नगरीय निकायों के प्रशिक्षण मे नगरपालिका ईओ पंकज कुमार , स्वच्छ भारत मिशन के डीपीएम गौतम मिश्रा एवं डीसी लोकेश कुमार का विशेष सहयोग प्राप्त हुआ | वहीं ग्राम पंचायत के प्रशिक्षण में डीपीआरओ उमाकांत पाण्डेय, खंड विकास अधिकारी, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से बीपीएम एवं बीसीपीएम तथा यूनिसेफ के डीएमसी आशुतोष मिश्रा एवं बीएमसी का सहयोग रहा |

News Plus India
साप्ताहिक समाचार पत्र व न्यूज पोर्टल सूचना एवम प्रसारण मंत्रालय द्वारा स्वीकृत
http://newsplusindia.in