राज्य शिक्षा

यूपी बोर्ड परीक्षा को नकलविहीन ढंग से सम्पन्न कराने के लिए प्रशासन ने कसी कमर ।

रिपोर्ट यूपी प्रभारी रजनी कान्त तिवारी ।

यूूपी गोण्डा । यूपी बोर्ड परीक्षा-2020 को नकलविहीन व पूरी सुचिता के साथ सम्पन्न कराने के लिए जिलाधिकारी नितिन बंसल ने पुलिस अधीक्षक सहित जिले के 122 परीक्षा केन्द्र प्रभारियों के साथ बैठक की । बैठक में जिलाधिकारी ने स्पष्ट कर दिया कि नकल विहीन परीक्षा सम्पन्न कराना प्रदेश सरकार के एजेन्डे में शामिल है । सभी परीक्षा केन्द्रों के प्रभारी स्पष्ट रूप से यह समझ लें कि यदि किसी भी परीक्षा केन्द्र पर नकल होने या कराए जाने की सूचना मिलेगी तो सम्बन्धित केन्द्र व्यवस्थापक तथा कक्ष निरीक्षक के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराई जाएगी ।

बोर्ड परीक्षा में शामिल होेंगें 83871 परीक्षार्थी , नकल कराने वाले परीक्षा केन्द्रों के खिलाफ होगी कठोर कार्यवाही , डीएम ने दी चेतावनी

जिलाधिकारी ने केन्द्र व्यवस्थापकों के साथ बोर्ड परीक्षा की तैयारी बैठक में स्पष्ट चेतावनी दी है कि यदि कोई भी कक्ष निरीक्षक नकल कराने का प्रयास करेगा तो निश्चित ही उसके विरूद्ध कठोर कार्यवाही होगी । उन्होंने निर्देश दिए कि परीक्षा केन्द्रों पर कोई भी परीक्षार्थी किसी भी दशा में मोबाइल , कल्कुुलेटर आदि किसी भी प्रकार का इलेक्ट्रानिक उपकरण कतई नहीं लेे जाएगा तथा गेट पर छात्राओं की तलाशी सिर्फ महिला कक्ष निरीक्षक ही लेगीं । उन्होनें सभी केन्द्र व्यवस्थापकों को यह भी चेतावनी दी है कि , परीक्षा समाप्त होने के बाद मुख्यालय कलेक्शन सेन्टर पर कापियां यदि तय समय सीमा के अन्दर नहीं पहुंचेंगी तो इसे नकल में संलिप्तता मानते हुए सम्बन्धित परीक्षा केन्द्र प्रभारी के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी ।

22 सेक्टर व 5 जोन में बंटा जिला , 122 परीक्षा केन्द्रों पर होगी यूपी बोर्ड परीक्षा

जिला विद्यालय निरीक्षक अनूप श्रीवास्तव ने बताया कि जिले में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की परीक्षा को नकल विहीन ढंग से सम्पन्न कराने के लिए कुुल 122 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं । बताया कि इस वर्ष बोर्ड परीक्षा में कुल 83871 परीक्षार्थी शामिल होेंगें जिनमें हाईस्कूूल में 45457 तथा इन्टरमीडिएट में 38414 परीक्षार्थी परीक्षा देगें । परीक्षा को सुुचितापूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए जिले को 22 सेक्टर तथा 05 जोनों में विभाजित कर मजिस्ट्रेटों की ड्यूटी लगाई गई है । इसके अलावा नकल को रोकने के लिए तीन उड़ाका दल भी परीक्षा के दौरान लगातार भ्रमणशील रहेगेें । उन्होंने यह भी स्पष्ट किया परीक्षा के दौरान परीक्षा केन्द्रों के निकट के सभी फोटो काॅपी मशीनें व फैक्स मशीनें प्रत्येक दशा में बन्द रहेगीं । इसके अलावा सभी परीक्षा केन्द्रों की आॅनलाइन मानीटरिंग प्रदेश स्तरीय कन्ट्रोल रूम तथा जिले के कन्ट्रोल रूम से की जाएगी तथा जिस विद्यालय का सीसीटीवी कैमरा बन्द पाया जाएगा , उस परीक्षा केन्द्र के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा। इमरजेन्सी स्वास्थ्य सेवा के लिए जिला प्रशासन द्वारा सभी परीक्षा केन्द्रों को प्राथमिक उपचार किट उपलब्ध कराई जाएगी तथा 108 एम्बुलेन्स सेवा भी परीक्षा के दौरान मुस्तैद रखी जाएगी ।


बैठक में एसडीएम सदर वीर बहादुर यादव , एसडीएम तरबगंज राजेश कुमार , बीएसए मनिराम सिंह , डीएसओ वी0के0 महान , डीपीओ जयदीप सिंह , पीडी सेवाराम चैधरी, डीसी मनरेगा हरिश्चन्द्र प्रजापति , डिप्टी आरएमओ लाल बहादुर गुप्ता , जिला कृषि अधिकारी जेपी यादव , जिला भूमि संरक्षण अधिकारी , जिला आबकारी अधिकारी , शिक्षक नेता अजीत सिंह , राधामोहन पाण्डेय सहित परीक्षा केन्द्रों के व्यवस्थापकगण उपस्थित रहे ।

Rajni Kant Tiwari
यूपी प्रभारी न्यूज़ प्लस इण्डिया सम्पर्क सूत्र 9839946832
http://www.newsplusindia.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *