राज्य शिक्षा समस्या

अवध विश्वविद्यालय में फीस बढ़ोतरी पर पुनर्विचार न होने पर होगा जमकर विरोध : छात्र नेता

रिपोर्ट यूपी प्रभारी रजनी कान्त तिवारी

अवध विश्वविद्यालय द्वारा की गई फीस बढ़ोतरी पर गोण्डा जिले सहित आस पास के महाविद्यालयों से जुड़े हर छात्र काफी परेशान हैं। विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा जारी किए गए नए फीस निति को छात्रों ने तानाशाही रवैया बताते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन को भविष्य में एक बड़े आंदोलन के लिए चैताया है।
आज लाल बहादुर शास्त्री महाविद्यालय गोण्डा के छात्रों ने विश्वविद्यालय प्रशासन व कुलपति के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी की है जिसमें छात्रों का प्रमुख मुद्दा फीस बढ़ोतरी होगा।

छात्र अभिषेक तिवारी

      सभा का नेतृत्व करते हुए छात्र नेता अभिषेक तिवारी ने कहा कि “अवध विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा जारी किए गए तानाशाही रवैए से आज 500 से ज्यादा महाविद्यालयों से जुड़े लाखों छात्र प्रभावित हैं। जिस प्रकार फीस बढ़ोत्तरी कर विश्वविद्यालय प्रशासन अपने आदेश के चाबुक से छात्रों के शिक्षा पर वार किया है वह बैहद निंदनीय है व इसका खुलकर विरोध होगा । छात्र हित के लिए हम सदैव तैयार हैं।”

छात्र विनय यादव

छात्र नेता विनय यादव ने बताया कि “पिछले कई वर्षों से फीस बढ़ोत्तरी नहीं हुई लेकिन एक बार में ही फीस बढ़ोत्तरी वह भी दोगुना। इससे कहीं न कहीं हजारों छात्रों की शिक्षा पर असर पड़ेगा , और कई छात्रों की शिक्षा बाधित होगी।”

छात्र सत्यम पाण्डेय

छात्र सत्यम पांडे ने कहा कि “इस विषय पर जल्द कुलपति से मिलकर छात्रों की बात को रखा जाएगा।”

छात्र मेराज अहमद

छात्र नेता मेराज अहमद ने कहा “कि अवध विश्वविद्यालय की प्रदेश में सबसे कम फीस होने की वजह से सबसे अधिक लोकप्रिय है और ऐसे में फीस बढ़ोतरी करना छात्रों पर अत्याचार हैं।” 

छात्रों ने बताया कि छात्र हित को देखते हुए जल्द कुलपति से मुलाकात किया जाएगा व हमें पुरी आशा व विश्वास है कि विश्वविद्यालय प्रशासन अपने आदेश पर एक बार पुनः विचार जरूर करेगा और लाखों छात्रों के साथ न्याय होगा। इस बीच सभा में प्रदीप मौर्य, पिंटू कश्यप, विकास मौर्य, जय सिंह यादव, संदीप तिवारी, इशरार खान,गौरव यादव, फरीद, अमित चौधरी, बालकराम, अंकित पांडे, प्रहर्ष सिंह, रक्षाराम सहित दर्जनों छात्र मौजूद रहें।

News Plus India
साप्ताहिक समाचार पत्र व न्यूज पोर्टल
http://newsplusindia.in